गणतंत्र दिविस भारत का एक राष्ट्रिय त्यौहार है। जिसे हम हर साल 26 जनवरी को ख़ुशी और उत्साह के साथ मानते है। इसी दिन 1950 को भारत का संविधान लागू किया गया था। 2020 में भारत अपना 71वाँ गणतन्त्र दिवस (republic day) मनायेगा।

26 january ko republic day kyu manaate hai

26 जनवरी को गणतंत्र दिवस समारोह पर भारत के राष्ट्रपति द्वारा भारतीय राष्ट्र ध्वज को फहराया जाता है। और इसके बाद सामूहिक रूप में खड़े होकर राष्ट्रगान गाया जाता है।

गणतंत्र दिवस जिसे republic day भी कहा जाता है को पुरे देश में भारत की राजधानी दिल्ली में बड़े उत्साह और ख़ुशी के साथ मनाया जाता है। अब जल्द ही कुुुछ दिनों के अन्दर देश में 26 जनवरी का त्यौहार आने वाला है। 

26 जनवरी के पर्व को हम लोकतंत्र का सबसे बड़ा पर्व मानते है। आजादी हमको 15 अगस्त को मिली थी लेकिन फिर भी हम 26 जनवरी सेलिब्रेट करते है और खुशियों के साथ मानते है। 

Republic Day Speech In Hindi 2020

बहुत कम लोगो को पता होगा की गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है। और 26 जनवरी के दिन ही क्यों मानते है। इस post में मैं आपको यही बताने वाला हूँ की 26 जनवरी क्यों मानते है।

26 जनवरी मनाने के पीछे वैसे तो बहुत सी वजह है। पर 3 common वजह है जो मैं आपको बता देना चाहता हूँ अगर आपको इस पोस्ट से पता चले कि गणतंत्र दिवस यानी republic day क्यों मनाया जाता है। तो इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक share जरूर करें।

26 January Kyu Manate Hai full Jankari Hindi Me

15 अगस्त 1947 को हमारा देश भारत आजाद हुआ था लेकिन उसके पूर्व 7 से 8 महीने पहले ही देश की आजादी की घोषणा हो गई थी और संविधान लिखने का कार्य शुरू हो गया था।

1935 का जो हमारा संविधान था उसके अनुसार हमारा नया संविधान बनाया गया। संविधान को बनाने में लगभग 2 साल 11 महीने और 18 दिन यानी लगभग 3 साल लगे थे 

लेकिन संविधान लागू कब हुआ। संविधान को टुकड़ो में पढ़ा गया और टुकड़ो टुकड़ो में जनता को इसके बारे में जानकारी देते गये। ऐसे ही ऐसे हमारे देश में संविधान को पूरी तरह 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया था।

मतलब आजादी के लगभग 2  साल बाद यानि 1947 से संविधान का बनना शुरू हुआ और 1950 में संविधान लागू किया गया। लेकिन 26 जनवरी को जब संविधान लागू किया गया तो उसके साथ में हमारे देश में लोकतंत्र का एक नया सेलेबर्स बनाया गया। लोकतंत्र का सेलेबर्स कुछ इस प्रकार था।

जनता में से जनता द्वारा और जनता के लिए चुनी हुई सरकार। इससे जनता का राज देश में लागू हो गया और संविधान देश में पूरी तरह लागू हो गया।

इसलिए हम देश को 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस कहते है या republic day. जिसे जनता का दिन भी कहा जाता है। इस दिन देश में पूरी तरह से लोकतंत्र लागू हुआ था। 

इसके अलावा हमारे देश का राष्ट्रिय ध्वज भी 26 जनवरी को ही लागू हुआ था। साथ ही हमारे देश भारत के राष्ट्रगान “जन गण मन” को भी 26 जनवरी के दिन ही Apply किया गया था। 

वैसे मान्यता पहले से थी लेकिन 26 जनवरी को ये हमारे देश का राष्ट्रगान के रूप में घोषित किया गया था।इसी के साथ देश में पूरी तरह से लोकतंत्र लागू हो गया और इसके साथ हमारे देश की जनता को कुछ अधिकार भी दिये गये। 

उसमें से सबसे बड़ा अधिकार था जो एक ऐसा अधिकार है जिससे हमको पूरी तरह आजादी मिल सकती है जिससे न हमको कोई बिना वजह गिरफ्तार कर सकता है हम देश में कही पर भी घूम सकते है।

गणतंत्र दिवस की ये 10 बाते हर भारतीय को पता होनी चाहिए 

इस तरह 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाने लगा और 2020 में भारत 71वां गणतंत्र दिवस यानि Republic Day मना रहा है।

इसलिए 26 जनवरी मनाई जाती है और इसी दिन गणतंत्र दिवस (republic day) मनाया जाता है। अब आपको पता चल गया होगा की 26 जनवरी क्यों मनाई जाती है और इसी दिन गणतंत्र दिवस क्यों मनाते है और 26 जनवरी का क्या महत्त्व हैं।

26 January को गणतंत्र दिवस इसलिए मनाया जाता है क्योंकि 26 जनवरी को ही भारत का संविधान लागू किया गया था 

गणतंत्र दिवस की शायरी हिंदी में 2020

इसलिए आज ही के दिन 26 जनवरी को हर साल गणतंत्र दिवस जिसे republic day भी कहा जाता है और republic day को जनता का दिन भी कहा जाता है इसी दिन को हर वर्ष गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता हैं।

अगर आपको इस पोस्ट से 26 जनवरी क्यों मनाते हैऔर इसी दिन गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है के बारे में अच्छी जानकारी मिली हो तो इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तो के साथ शेयर जरूर करें।